आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने ट्रंप द्वारा धमकी पर मोदी सरकार को दिया सलाह!

1
394

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा भारत को दी गई धमकी पर मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बयान में साफ तौर से देखा जा सकता है कि वह किस प्रकार से कह रहे हैं कि या तो भारत अमेरिका को दवाइयां निर्यात करे, नहीं तो हम भारत के खिलाफ कार्यवाई करेंगे।
संजय सिंह ने कहा कि यह बड़ा ही निराशाजनक है कि ऐसे समय में जब भारत की 135 करोड़ जनता संकट के दौर से गुजर रही है, देश भुखमरी के कगार पर खड़ा हुआ है, लोगों की जान जा रही है, ऐसे समय में अमेरिका के राष्ट्रपति भारत को धमकी दे रही है और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी कड़े शब्दों में उसका जवाब देने की बजाय, भारत की सरकार अमेरिका के सामने घुटने टेकती हुई नजर आ रही है। उन्होंने कहा कि अमेरिका की यह धमकी केवल नरेंद्र मोदी जी के लिए नहीं बल्कि भारत की 135 करोड़ जनता को धमकी है, भारत की संप्रभुता को धमकी है। उन्होंने कहा कि मुझे लगा था कि मोदी जी अमेरिका की इस धमकी का कड़े शब्दों में जवाब देंगे। परंतु मोदी जी बजाएं अमेरिका को जवाब देने के उनके सामने घुटने टेकते नजर आ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि जहां एक ओर देश कोरोना नामक संकट से जूझ रहा है, वहीं दूसरी ओर केंद्र में बैठी भाजपा सरकार की सोच और नीतियां समझ से परे हैं। जहां हमारा देश खुद इस महामारी से जूझ रहा है, वहां केंद्र में बैठी भाजपा सरकार 19 मार्च तक भिन्न-भिन्न देशों को सैनिटाइजर, मास्क और वेंटिलेटर निर्यात कर रही है। जहां एक और हमारे देश के अस्पतालों में कोरोना से लड़ने में इस्तेमाल होने वाली ज़रूरी चीजें पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं हैं, बावजूद उसके केंद्र में बैठी भाजपा सरकार, 31 मार्च तक सरबिया को कई टन सर्जिकल इक्यूपमेंट, सैनिटाइजर और वेंटिलेटर निर्यात कर रही है। अमेरिका की धमकी पर भारतीय विदेश मंत्रालय का दवाई निर्यात करने वाला बयान बेहद ही निराशाजनक है। केंद्र में बैठे भाजपा सरकार हिंदुस्तान की जनता के जीवन के साथ खिलवाड़ कर रही है।

अमेरिका द्वारा दी गई धमकी पर संजय सिंह ने सुझाव देते हुए कहा कि मोदी जी को साफ शब्दों में अमेरिका को जवाब देना चाहिए और कहना चाहिए, कि हम किसी प्रकार की धमकी में नहीं आने वाले और क्योंकि भारत खुद संकट के दौर से गुजर रहा है तो हम किसी भी प्रकार की दवाई नहीं भेजेंगे। उन्होंने कहा कि भारत 135 करोड़ की आबादी वाला देश है, हजारों की संख्या में कोरोना के केस सामने आ चुके हैं, आने वाले समय में क्या स्थिति होगी इस पर कुछ नहीं कहा जा सकता। हमारे देश में खुद सुविधाओं की कमी हो रही है, एम्स के डॉक्टरों ने पीपीई किट की कमी होने की बात कही है, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार से जरूरी सामान मुहैया कराने की अपील की है। ऐसी स्थिति में किस आधार पर मोदी सरकार अमेरिका को दवाइयां भेजने की बात कर रही हैं।

संजय सिंह ने कहा कि क्लोरो क्वीन नामक दवा जो कि विश्व भर के अब तक के शोध में कोरोना बीमारी से लड़ने में सबसे सार्थक सिद्ध हुई है, ऐसी मुसीबत की घड़ी में जब देश खुद इस महामारी से जूझ रहा है, वह दवाई अमेरिका को निर्यात करने का मोदी सरकार का निर्णय बेहद ही बचकाना और आधारहीन है।

संजय सिंह ने आम आदमी पार्टी की ओर से मोदी सरकार से मांग कि की उन्हें कड़े शब्दों में अमेरिका को जवाब दें उन्हें बताएं कि भारत किसी का गुलाम नहीं है, हम किसी प्रकार की धमकी में नहीं आने वाले हैं। हवाई जहाज का उदाहरण देते हुए संजय सिंह ने कहा कि जहाज में भी बताया जाता है, कि दूसरों की सहायता करने से पहले अपना मास्क लगा लें। मोदी जी अमेरिका को बताएं कि भारत खुद कोरोना नामक महामारी से जूझ रहा है और हम किसी भी प्रकार की दवाई अमेरिका को निर्यात नहीं करेंगे।

1 COMMENT

Comments are closed.