कोरोना से लड़ने तीन जोन तैयार, कहां कौन सा जोन है, जाने

0
434

कोरोना वायरस के वजह से देशभर में लॉकडाउन का फेज-2 तीन यानी 3 मई को खत्म हो रहा है। सरकार कोरोना संक्रमणों की संख्या के आधार पर राज्यों को छूट दे सकती है। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश के राज्यों के अलग-अलग जिलों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांटा है। मंत्रालय ने कोरोना मामलों की संख्या, डबलिंग रेट और टेस्ट के हिसाब से जिलों की नई सूची बनाई है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन ने शुक्रवार को सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को यह जानकारी दी है। देश के 130 जिलों में 3 मई के बाद भी सख्ती जारी रह सकती है। उन्होंने कहा है कि रिकवरी रेट बढ़ा है। इसी हिसाब से अब अलग-अलग इलाकों में जिलों को जोन वाइज बांटा जा रहा है।

देश में कुल 733 जिले है जिसमें 18% जिले रेड जोन में है। सबसे ज्यादा 44% जिले ग्रीन जोन में है। जिसमें 130 जिले रेड जोन में है, 284 जिले ऑरेंज जोन में है और 319 जिले ग्रीन जोन में है। रेड जोन यानी जहां कोरोना के मामले सबसे ज्यादा, ऑरेंज जोन का अर्थ है जहां 14 दिन से कोई भी नए मामले नहीं आए है। ग्रीन जोन यानी जहां 21 दिन से नए मामले नहीं आए है।

सबसे ज्यादा 19 रेड जोन और 36 ऑरेंज जोन उत्तर प्रदेश में और सबसे ज्यादा 30 ग्रीन जोन असम में है।

उत्तर प्रदेश
रेड जोन :
आगरा, लखनऊ, सहारनपुर, कानपुर नगर, मुरादाबाद ,फिरोजाबाद, गौतमबुद्धनगर, बुलंदशहर, मेरठ, रायबरेली, वाराणसी, बिजनौर, अमरोहा, संत कबीर नगर, अलीगढ़, मुजफ्फरनगर, रामपुर, मथुरा, बरेली।

ऑरेंज जोन : गाजियाबाद, हापुड़, बदायूं, बागपत, बस्ती ,शामली, औरैया, सीतापुर, बहराइच, कन्नौज, आजमगढ़, मैनपुरी, श्रावस्ती, बांदा, जौनपुर, एटा, कासगंज, सुल्तानपुर, प्रयागराज, जालौन, मिर्जापुर, इटावा, प्रतापगढ़, गाजीपुर, गोंडा, मऊ, भदोही, उन्नाव, पीलीभीत, बलरामपुर, अयोध्या, गोरखपुर, झांसी, हरदोई, कौशांबी।

ग्रीन जोन : बाराबंकी, लखीमपुर खीरी, हाथरस, महाराजगंज, शाहजहांपुर, अंबेडकर नगर, बलिया ,चंदौली ,चित्रकूट, देवरिया, फर्रुखाबाद ,फतेहपुर, हमीरपुर, कानपुर देहात, कुशीनगर, ललितपुर, महोबा, सिद्धार्थ नगर, सोनभद्र, अमेठी

उत्तराखंड

रेड जोन: हरिद्वार।
ऑरेंज जोन: देहरादून, नैनीताल।
10 ग्रीन जोन: उधम सिंह नगर, अल्मोड़ा, पौड़ी गढ़वाल, बागेश्वर, चमोली, चंपावत, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग, टिहरी गढ़वाल, उत्तरकाशी।

छत्तीसगढ़

1 रेड जोन: रायपुर।
1ऑरेंज जोन: कोरबा।
25 ग्रीन जोन: सूरजपुर, बिलासपुर, दुर्ग, राजनांदगावं, बस्तर, दंतेवाड़ा, धमतरी, जांजगीर चाम्पा, जशपुर, कांकेर, कबीरधाम, कोरिया, महासमुंद, रायगढ़, सरगुजा, बीजापुर, नारायणपुर, सुकमा, कोंडागांव, बालोदा बाजार, गरियाबंद, बालोद, मुंगेली, बलरामपुर, बेमेतरा।

गुजरात

9 रेड जोन: अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, आणंद, बनासकांठा, पंचमहल, भावनगर, गांधीनगर, अरवल्ली।
19 ऑरेंज जोन: राजकोट, भरूच, बोटाद, नर्मदा, छोटा उदयपुर, महिसागर, महेसाणा, पाटन, खेड़ा, वलसाड, दाहोद, कच्छ, नवसारी, गीरसोमनाथ, डांग, साबरकांठा, तापी, जामनगर, सुरेंद्रनगर।
5 ग्रीन जोन: मोरबी, अमरेली, पोरबंदर, जूनागढ़, देवभूमि द्वारका।

बिहार

5 रेड जोन: मुंगेर, पटना, रोहतास, बक्सर, गया।
20 ऑरेंज जोन: नालंदा, कैमूर, सीवान, गोपालगंज, भोजपुर, बेगूसराय, औरंगाबाद, मधुबनी, पूर्वी चंपारण, भागलपुर, अरवल, सारण, नवादा, लखीसराय, बांका, वैशाली, दरभंगा, जहानाबाद, मधेपुरा, पूर्णिया।
13 ग्रीन जोन: शेखपुरा, अररिया, जमुई, कटिहार, खगड़िया, किशनगंज, मुजफ्फरपुर, पश्चिमी चंपारण, सहरसा, समस्तीपुर, शिवहर, सीतामढ़ी, सुपौल।

झारखंड

1 रेड जोन: रांची।
9 ऑरेंज जोन: बोकारो, गढ़वा, धनबाद, देवघर, हजारीबाग, सिमदेगा, गिरीडीह, कोडरमा, जमतारा।
14 ग्रीन जोन: छत्र, दुमका पूर्वी सिंहभूम, गोडा, गुमला, लातेहर, लोहरदगा, पाकुर, पलामू, साहेबगंज, सरायकेला खरसावन, पश्चिमी सिंहभूम, खूंटी, रामगढ़।

दिल्ली

सभी 11 रेड जोन: साउथ-ईस्ट, सेंट्रल, नॉर्थ, साउथ, नॉर्थ-ईस्ट, वेस्ट, शाहदरा, ईस्ट, नई दिल्ली, नॉर्थ-वेस्ट, साउथ-वेस्ट।

हरियाणा

2 रेड जोन: सोनीपत, फरीदाबाद।
18 ऑरेंज जोन: गुरुग्राम, नूंह, पानीपत, पंचकूला, पलवल, रोहतक, हिसार, अंबाला, झज्जर, भिवानी, कैथल, कुरुक्षेत्र, करनाल, जिंद, सिरसा, यमुनानगर, फतेहाबाद, चरखी दादरी।
2 ग्रीन जोन:  महेंद्रगढ़, रेवाड़ी।

पंजाब

3 रेड जोन: जालंधर, पटियाला, लुधियाना।
15 ऑरेंज जोन: एसएएस नगर, पठानकोट, मनसा, तरणतारण, अमृतसर, कपूरथला, होशियारपुर, फरीदकोट, संगरूर, शहीद भगत सिंह नगर, फिरोजपुर, श्री मुक्तसर साहिब, मोगा, गुरदासपुर, बरनाला।
4 ग्रीन जोन: रूपनगर, फेतहगढ़ साहिब, भटिंडा, फाजिल्का।

हिमाचल

रेड जोन: एक भी नहीं।
6 ऑरेंज जोन: ऊना, चंबा, हमीरपुर, कांगड़ा, सिरमौर, सोलन।
6 ग्रीन जोन: बिलासपुर, किन्नौर, कुल्लू, लाहोल एंड स्पीति, मंडी, शिमला।

जम्मू-कश्मीर
4 रेड जोन: बांदीपोरा, शोपियां, अनंतनाग, श्रीनगर।
12 ऑरेंज जोन: बारामूला, कुपवाड़ा, गांदरबल, जम्मू, उधमपुर, कुलगाम, बडगांव, सांबा, कठुआ, राजौरी, रामबन, रियासी।
4 ग्रीन जोन:  पुलवामा, किश्तवाड़, डोडा, पुंछ।

वहीं पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री का दावा है कि हमारे यहां सिर्फ 4 रेड जोन है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के क्लासिफिकेशन पर पश्चिम बंगाल ने आपत्ति जताई है। वहां के प्रमुख स्वास्थ्य सचिव विवेक कुमार ने मंत्रालय को पत्र लिखकर कहा है कि हमारे राज्य में सिर्फ 4 रेड जोन हैं तो 10 क्यों बताए गए हैं?