जनवरी में ढहे चांदनी चौक हनुमान मंदिर रातों रात बदला, नया मंदिर बीच किनारे पर बना, अथॉरिटी बोली भगवान के काम में नियम नहीं लागू

0
15

जनवरी के महीने में ढहाया हनुमान मंदिर के बदले रातो रात एक नया मंदिर सेंट्रल वर्ज चांदनी चौक के सेंट्रल वर्ज पर बना दिया गया है। सड़क के किनारे बने मंदिर को जनवरी में ढहा दिया गया था। दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश पर मंदिर को ढहाया गया था। भाजपा और आम आदमी पार्टी ने दावा किया कि इसे चांदनी चौक के लोगों ने बनवाया है। अगले साल एमसीडी के चुनाव है जिसकी वजह से राजनीतिक पार्टियां कह रही हैं कि मंदिर से उनको अब कोई दिक्कत नहीं है।

बीजेपी की दिल्ली इकाई के प्रवक्ता परवीन शंकर कपूर ने कहा, चांदनी चौक का मंदिर लोगों द्वारा तड़के 4:00 से 4:30 के बीच शुक्रवार को बनाया गया है। वह पहले से ही तैयार था। यह स्टील और गिलास की फैब्रिकेटेड बॉडी से बना है। अथॉरिटी से मंदिर को बनाने की मंजूरी के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि लोगो के आह्वान पर यह मंदिर बना है और भाजपा इसका समर्थन करती है, अगर सरकार को इससे एतराज है तो वह सड़क पर इसे लेकर लड़ाई करेंगे।

वही आम आदमी पार्टी सरकार ने कहा कि वे इस मसले को देख रही है। भाजपा के कपूर ने कहा कि चांदनी चौक को झंडियों से सजाया जाएगा और हनुमान चालीसा का पाठ सामूहिक तौर पर शनिवार को सुबह 11:00 बजे से होगा सूत्रों ने बताया कि मंदिर का स्ट्रक्चर सिविल लाइन की एक कोठी में बना है और बहुत कम लोग इसके बारे में जानते थे। सूत्र ने बताया कि इस मंदिर को बनाने की योजना 10 से 15 दिन पहले बनाई गई थी और स्थानीय रसूखदार लोग दिल्ली बीजेपी और आरएसएस कार्यकर्ताओं की शुक्रवार की सुबह जब पूरी तरह से उजाला भी नहीं हुआ था करीब 50 लोगों ने मंदिर को स्थापित किया और इस काम में 1 घंटा लगा। मंदिर को नट एंड बोल्ट से स्थापित किया गया। यह काम सुबह 3:00 बजे शुरू हुआ और 4:30 बजे खत्म हो गया। इलाके में भाजपा के काउंसलर रवि कप्तान ने कहा कि हिंदू संगठन और स्थानीय लोगों की मदद से मंदिर बनाया गया है। वह लोग पुराने मंदिर के टूट जाने पर काफी दर्द में थे। यह सिर्फ एक आदमी और एक पॉलीटिकल पार्टी की बात नहीं है। सब लोगों ने एकजुट होकर यह मिलाजुला निर्णय लिया और इस पर आगे बढ़े। शुक्रवार को दोपहर में दिल्ली की भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता यहां आए और पूजा अर्चना की। उन्होंने नए मंदिर का स्वागत किया।