तमंचे पर डिस्को करने वाले उत्तराखण्ड के विधायक का 13 महीने बाद बीजेपी ने किया निलंबन रद्द

0
141

पिछले साल जुलाई में भाजपा से निष्कासित खानपुर (हरिद्वार) के विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन की भाजपा में वापसी हो गई है। प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने अपने आवास पर मीडिया के समक्ष की चैंपियन की घर वापसी की घोषणा की है। आपको बता दें कि विधायक को छह साल के लिए निष्कासित किया गया था, लेकिन 13 माह में ही माफी मिल गई।

अनुशासनहीनता के आरोप में भाजपा से निष्कासित किए गए खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन की आखिरकार पार्टी में वापसी हो ही गई। सोमवार को उनकी पार्टी में वापसी का एलान हुआ। आपको बता दें कि लगातार विवादों में रहे विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन को भाजपा ने पिछले साल 18 जुलाई को पार्टी से निष्कासित कर दिया था।

वहीं, शुक्रवार को हुई पार्टी की उच्च स्तरीय बैठक में उनके मसले पर चर्चा की गई थी। इसके अलावा विधायक देशराज कर्णवाल, पूरण सिंह फर्त्याल और महेश नेगी के मसलों पर भी विचार-विमर्श हुआ था। कर्णवाल को पार्टी ने 28 जुलाई को अनुशासनहीन आचरण के आरोप में नोटिस जारी किया था, जिसका वह जवाब दे चुके हैं। विधायक फर्त्याल हाल में एक पुल निर्माण के मामले में असंतोष जाहिर करने की वजह से सुर्खियों में रहे थे। वहीं, विधायक महेश नेगी पर एक महिला ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है।

दरअसल, पिछले साल खानपुर विधायक प्रणव सिंह चैंपियन का एक वीडियो वायरल हुआ था। इसमें वह एक पार्टी के दौरान शराब पीते हथियार लहराते नजर आए। वीडियो में वह उत्तराखंड को लेकर अभद्र और आपत्तिजनक टिप्पणी भी कर रहे थे। इस प्रकरण को लेकर भाजपा ने उनपर कड़ी कार्रवाई की थी। उन पर दिल्ली के उत्तराखंड भवन में कुछ पत्रकारों को धमकाने और उनके साथ मारपीट करने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया था।