दिल्ली विधानसभा चुनाव में खड़े कुल 672 प्रत्याशियों में से 133 के खिलाफ क्रिमिनल केस

0
188

नेताओं के पोस्टर्स में आपने ‘ईमानदार और साफ छवि’ लिखा हुआ बहुत बार देखा होगा, लेकिन असल राजनीति में उनका कितना ही सरोकार है उससे जुड़ा हुआ आकंड़ा आया है। दिल्ली विधानसभा चुनाव में खड़े कुल 672 प्रत्याशियों में से 20 प्रतिशत (133) के खिलाफ क्रिमिनल केस हैं। हैरानी वाली बात यह है कि राजनीति सुधारने का दावा करनेवाली आम आदमी पार्टी (आप) के 51 प्रतिशत उम्मीदवार दागी हैं।

यह बात असोसिएशन ऑफ डिमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) के आंकड़ों में सामने आई है। संस्था के अनुसार दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के 25 प्रतिशत प्रत्याशी और बीजेपी के 20 प्रतिशत प्रत्याशियों ने अपने चुनावी हलफनामों में यह घोषणा की है कि उनके खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। एडीआर ने कहा कि कांग्रेस के भी 15 प्रतिशत प्रत्याशियों ने अपने खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज होने की घोषणा की है। आठ फरवरी को होने जा रहे दिल्ली विधानसभा चुनाव में इस बार 672 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं।

आप पार्टी के 36 उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। वही भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के 67 उम्मीदवारों में से 17 के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। लिस्ट में कांग्रेस तीसरे, बीएसपी चौथे और एनसीपी पांचवे नंबर पर है।
देखिए लिस्ट

पार्टी कुल उम्मीदवार दागी उम्मीदवार
आम आदमी पार्टी7036
भारतीय जनता पार्टी6717
कांग्रेस6613
नैशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी6610

इसबार दागी 2015 के चुनाव से ज्यादा हैं। तब के चुनाव में 673 उम्मीदर थे। इसमें से 114 (17 प्रतिशत) दागी थे। इस चुनाव में टॉप तीन अमीर उम्मीदवारों की बात करें तो तीनों आप पार्टी से हैं। पहले नंबर पर आप पार्टी के धर्मपाल लकारा हैं। वह मुंडका से चुनाव लड़ रहे हैं। उनके पास 292 करोड़ रुपये की संपत्ति है। दूसरे नबंर पर आप की उम्मीदवार प्रमिला टोकस हैं। उनके पास 80.8 करोड़ की संपत्ति हैं। तीसरे नंबर पर राम सिंह नेताजी हैं। वह बदरपुर से उम्मीदवार हैं। उनकी संपत्ति भी 80 करोड़ है।
[1:41 AM, 2/3/2020] Komal Current Review: दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए सियासी घमासान तेज हो गया है. भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव अभियान को धार देने के लिए अपने दिग्गजों को उतार दिया है. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार में पूरी तरह से जुट गए हैं. रविवार को उन्होंने दिल्ली कैंट इलाके में ‘महा जनसंपर्क अभियान’ शुरू किया.
भारतीय जनता पार्टी के ‘महा जनसंपर्क अभियान’ के तहत अमित शाह लोगों के घर-घर जाकर पर्चा बांट रहे है. रविवार को डोर-टू-डोर कैंपेन के दौरान अमित शाह के साथ भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता भी भारी संख्या में मौजूद रहे. पिछले कई दिनों से नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर देश भर में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. इन सबके बीच जनसंपर्क को निकले अमित शाह पर अल्पसंख्यकों ने फूल बरसाए. शाह ने अल्पसंख्यकों से भाजपा के उम्मीदवार के लिए वोट मांगे.
भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने दिल्ली चुनाव के लिए पूरी ताकत झोंक दी है. अमित शाह ने सहयोगी दल जेडी(यू) प्रत्याशी के समर्थन में आयोजित चुनावी रैली को बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार के साथ मंच भी साझा किया. बुराड़ी विधानसभा में गृह मंत्री अमित शाह और बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने जनसभा को संबोधित किया. अमित शाह ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि केजरीवाल झूठ बोलने में नंबर-वन9 हैं और वो अपने वादे भूल जाते हैं. वहीं, नीतीश कुमार ने कहा कि दिल्ली में न सड़क ठीक, न पानी, फिर दिल्ली में केजरीवाल ने क्या किया?
चुनावी अभियान के दौरान तिलक नगर में जनसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने केजरीवाल पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने बोला था कि DTC की 5000 नई बसें लाएंगे, लेकिन जो थीं उनमें से भी एक हजार से ज्यादा बसें घट गई हैं. हालिया BIS सर्वे के जरिए से दिल्ली के साथ-साथ 21 शहरों के पानी का परीक्षण किया गया. सर्वे के अनुसार, 21 शहरों से भी ज्यादा गंदा पानी दिल्लीवालों को मिल रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here