बिहार में पटना सहित अन्य जिलों में 47 दिनों बाद दुकान इलेक्ट्रॉनिक, ऑटोमोबाइल सहित कई दुकानें खुली

0
423

बेगुसराय में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन : अरविंद वर्मा

बिहार में पटना, बेगुसराय, मुजफ्फरपुर सहित अन्य जिलों में 47 दिनों बाद इलेक्ट्रॉनिक, ऑटोमोबाइल और हार्डवेयर समेत कई दुकानें शुक्रवार को खुली। कोरोना संक्रमण के चलते लोगों में मन में डर का माहौल बना हुआ है। जिसके वजह से दुकानें खुलने के बाद भी सड़क पर सन्नाटा देखने को मिली। दुकानें खुली लेकिन ग्राहक नहीं पहुंचे। दुकानदार इतने दिनों के बाद काफी उत्साह के साथ अपने-अपने दुकान खोले और दुकानदार पलक झपकाए बिना ग्राहकों का इंतजार करते रहे। लेकिन लॉकडाउन के वजह से लोग सड़कों पर सामान खरीदने नहीं निकले। सिर्फ जरूरत का ही सामान खरीदने के लिए बाजार निकाल रहे थे। लोग फर्नीचर, हार्डवेयर के दुकान के अंदर प्रवेश भी नहीं किए।

बता दे कि 22 मार्च को जनता कर्फ्यू और 25 मार्च को लॉकडाउन के आदेश के बाद से ही बिहार में सभी दुकानें बंद थी। सिर्फ आवश्यक सामग्री जैसे राशन, दूध, दवा की दुकानों को खुला रखने की इजाजत थी।

हालांकि बिहार सरकार और डीएम द्वारा दुकानदार को दुकानें खोलने की कुछ शर्तों के साथ अनुमति तो मिल गई। डीएम के आदेश के बाद इलेक्ट्रॉनिक गुड्स, पंखा, कूलर, एसी, मोबाइल, कंप्यूटर, यूपीएस, बैट्री की दुकानें और सर्विस सेंटर शुरू हो गए हैं। अभी सप्ताह में तीन दिन(सोमवार, बुधवार और शुक्रवार) ही दुकान खोलने की इजाजत है। प्रशासन इस पर कड़ी नजर बनाए हुए है कि लोग सोशल डिस्टेंसिंग का कितना पालन कर रहे हैं। समीक्षा के बाद ही मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को दुकान खोलने की अनुमति मिलेगी।

वहीं, बेगुसराय के डीएम अरविंद वर्मा ने करेंट रिव्यू से खास बातचीत में बताया कि अगर सोशल डिस्टेंसिंग का सही रूप से पालन नहीं होगा तो आने वाले दिनों में दुकान खोलने की इजाज़त नहीं मिलेगी। इसलिए दुकानदार और ग्राहक दोनों को सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखना होगा। इसी के साथ ग्राहक और दुकानदारों को मास्क लगाना अनिवार्य है। जो लोग बिना मास्क पहने दिखे उनके ऊपर कड़ी कार्यवाही की जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा कि हर दुकानदार को अपने दुकान के बाहर 2 गज की दूरी बना कर रखना अनिवार्य है और कोई चिन्हित कर के आकार बना ले और ग्राहकों को उसी चिन्हित जगह पर खड़ा करे। उन्होंने बताया कि दुकान खोलने का निर्धारित समय है, इसलिए दुकानदारों को समय से दुकान बंद कर देनी चाहिए।
उन्होंने बताया कि आज बेगुसराय में 47 वा दिन बाद दुकान खुली और जनता ओर दुकानदार सबने मिलकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया। उन्होंने कहा कि हमें पूरा विश्वास है कि जिस तरह से बेगुसरायवासी लॉकडाउन का पालन कर रही है, निश्चित तौर पर हमलोग कोरोना से जंग जीत लेंगे।

दुकानों को खोलने के लिए प्रशासन की तरफ से जारी किए गए गाइडलाइन:-

सुबह 6 से शाम 6 बजे तक सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को इलेक्ट्रॉनिक, निर्माण सामग्री, हाई सिक्यूरिटी, प्रदूषण जांच केंद्र, ऑटोमोबाइल, स्पेयर पार्ट्स से जुड़े दुकान और रिपेयरिंग सेंटर खुलेंगे

दुकानदार और सेल्समेन के साथ ग्राहक को मास्क पहनना अनिवार्य है। दुकान के आगे 2 गज की दूरी पर गोला का निर्माण करना है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने पर दुकान बंद कराई जाएगी। गैराज और वर्कशॉप हर दिन खुलेगा।

33 प्रतिशत उपस्थिति के साथ निजी कार्यालय को खोलने की इजाजत है। ये भी सुबह 6 से शाम 6 बजे तक खुलेंगे। यहां भी सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करना और मास्क पहनना अनिवार्य है।

कंटेनमेंट जोन के आस-पास और भीड़-भाड़ इलाके के साथ मॉल, मार्केट कंपलेक्स में दुकानों को खोलने की अनुमति नहीं है।

आवश्यक सामग्री की दुकानें हर दिन खुलेगी। इसका भी समय सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक ही होगा।

बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन का कार्य कराने के लिए अनुमति पास लेना अनिवार्य है। स्थल निरीक्षण कर अनुमंडल पदाधिकारी कार्य शुरू करने का पास जारी करेंगे।

हालांकि अभी भी कपड़े, रेडीमेड, जेवर की दुकानें बंद है।