बीए, बीकॉम, बीएससी छात्र ग्रेजुएशन के साथ कर सकते हैं इंटर्नशिप ताकि नौकरी के लिए हो जाएं तैयार, यूजीसी के दिशा निर्देश

0
114

नई दिल्ली: बीए, बीकॉम, बीएससी जैसे नियमित डिग्री पाठ्यक्रमों करने वाले छात्र अब इंजीनियरिंग और प्रबंधन जैसे व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में अपने समकक्षों की तरह ही अपने पाठ्यक्रम के हिस्से के रूप में इंटर्नशिप कर सकेंगे।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने शुक्रवार को डिग्री कार्यक्रमों के लिए अप्रेंटिसशिप / इंटर्नशिप दिशानिर्देश जारी किए, जिसके तहत उन्होंने किसी भी विषय से पाठ्यक्रमों को कार्यक्रमों के एक भाग के रूप में इंटर्नशिप की पेशकश करने की अनुमति दी है। इन पाठ्यक्रमों को ‘इंटर्नशिप / अप्रेंटिसशिप एम्बेडेड डिग्री प्रोग्राम’ कहा जाएगा।

वर्तमान में, केवल पत्रकारिता, इंजीनियरिंग, प्रबंधन और अन्य जैसे व्यावसायिक पाठ्यक्रमों का पीछा करने वाले छात्रों को अनिवार्य इंटर्नशिप से गुजरने के लिए कहा जाता है, लेकिन अंग्रेजी में बीए या बीकॉम छात्रों को यह मौका नहीं दिया जाता।

यूजीसी के दिशानिर्देशों ने कॉलेजों और विश्वविद्यालयों को इंटर्नशिप करने के लिए कम से कम एक पूर्ण सेमेस्टर समर्पित करने और छात्रों को उनके समकक्ष अनुभव के आधार पर मूल्यांकन करने के लिए कहा है।

आयोग ने संस्थानों को इंटर्नशिप के लिए कुल क्रेडिट का 20 प्रतिशत अवॉर्ड देने के लिए कहा है, यदि उन्होंने छात्रों को एम्बेडेड डिग्री प्रोग्राम की पेशकश करने के लिए चुना है।
‘केवल अकादमिक’ दृष्टिकोण से एक बदलाव की आवश्यकता है

नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) में भी को डिग्री कार्यक्रमों का एक हिस्सा बनाने को कहा गया था, ताकि छात्रों को रोजगार के लिए तैयार किया जाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here