भारत-चीन की सेना के बीच झड़प: भारतीय अधिकारी सहित दो जवान शहीद!

0
310

पिछले कई दिनों से भारत-चीन सीमा पर विवाद जारी है. वहीं आज लाईन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC)पर भारत और चीन की सेना के बीच हिंसक झड़प हो चुकी है. लद्दाख में चीन की सेना के साथ हुई झड़प में भारतीय सेना  का एक कर्नल और दो जवान शहीद हो गए हैं.

बता दे कि, लद्दाख इलाके में यह 1962 के बाद ऐसा पहला मौका है जब सैनिक शहीद हुए हैं. हालांकि सूत्रों का कहना है कि चीनी सेना को भी काफी नुकसान हुआ है.  जानकारी के मुताबिक, दोनों सेनाओं की ओर से रात में पीछे हटने की प्रक्रिया जारी थी लेकिन अब अचानक चीनी सैनिकों की ओर से हरकत की गई है जिसमें भारतीय सैनिक शहीद हो गए हैं.

हालांकि, इस बीच बीजिंग ने ही भारत पर घुसपैठ करने का आरोप लगा दिया है. जानकारी के मुताबिक, बीजिंग का आरोप है कि भारतीय सैनिकों ने बॉर्डर क्रॉर्स करके चीनी सैनिकों पर हमला किया.

वहीं, चीन के विदेश मंत्री का बयान है कि भारतीय जवानों ने दो बार बॉर्डर को अवैध रूप से पार किया और चीनी सैनिकों पर हमला किया. इस दौरान दोनों देशों के जवान भिड़ गए और नतीजन हिंसक झड़प हुई है. हालांकि उन्होंने कहा कि इससे बातचीत पर भी असर पड़ेगा साथ ही पूरे मामले का हल बातचीत के जरिए से ही होगा. उन्होंने चीन और भारत के सामने हिंसक झड़प को लेकर गंभीर आपत्ति दर्ज कराई है साथ ही भारतीय सेना द्वारा सीमा पार करने या अपनी एकपक्षीय कार्रवाई करने से सख्ती से रोक लगाने का आग्रह किया गया है. उनका कहना है कि स्थिति बातचीत के जरिए मामले का हल निकालने की प्रक्रिया को जटिल बना सकती है.
वहीं चीन के विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि भारत अगर एकतरफा कदम उठाएगा तो इस तरह की दिक्कतें सामने आएंगी.

अब चीन और भारत यानी दोनों देश द्विपक्षीय बातचीत करके ही मामले का हल निकाल सकते हैं. इस बॉर्डर के जरिए सीमा का विवाद हल होगा और एलएसी पर शांति रहेगी.

बता दे कि, बीते दिनों भारत और चीन दोनों देशों के बीच तय हुआ था कि चीन की सेना गलवान घाटी में पेट्रोलिंग प्वाइंट 14, 15 और 17 ए से पीछे हटेगी. चीन सेना श्योक नदी और गलवान नदी के मुहाने तक आ गई थी. हालांकि ये धीरे-धीरे पीछे हट भी रही थी, लेकिन पूरी तरह से पीछे नहीं हटी थी. कल यानी सोमवार को निर्णय हुआ था कि चीन की सेना पूरी तरह पीछे जाएगी.

बता दे कि फैसले के बाद जब चीनी सेना ने पीछे जाने से इनकार किया तो इस बीच हिंसक झड़प हो गई. चीन सीमा पर स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है.