मोदी जी को कोरोना से बचाने के लिए अयोध्या हो रही है तैयार, सेल्फी पर रोक, 8 फीट का सोशल डिस्टेंस

0
318

नई दिल्ली। अब रामजन्म भूमि पूजन कल मंगलवार को होने वाला है और सरयू नदी पर होने वाले पूजन के लिए अयोध्या नगरी तैयार है। खासकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए अयोध्या नगरी में खास इंतजाम किए गए हैं।

अयोध्या नगरी के प्रशासन के सामने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा ही नहीं बल्कि महामारी से बचाने की भी सबसे बड़ी चुनौती है। पूरे अयोध्या में इस बात पर खूब बातें हो रही हैं कि प्रधानमंत्री का 2 गज की दूरी यानी सोशल डिस्टेंसिंग का यह फार्मूला क्या भूमि पूजन के दौरान नजर आएगा। लेकिन अयोध्या प्रशासन 2 गज की दूरी के फार्मूले से कुछ ज्यादा आगे चलकर 8 फुट की दूरी के फार्मूले पर काम कर रहा है। दरअसल भूमि पूजन के कार्यक्रम में प्रशासन ने बैठने की व्यवस्था 8 फुट की दूरी के हिसाब से की है।

एक कुर्सी की दूसरी कुर्सी से दूरी 8 फीट रखी गई है। जिस स्थान पर भूमि पूजन किया जाएगा वहां कइयों बार सैनिटाइजेशन किया गया है।सोडियमफ्लोक्लोराइड सॉल्यूशन से उस जगह को विषाणु मुक्त किया गया है।

सेल्फी नहीं दूरी सही

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ज्यादातर कार्यक्रमों में आए लोग उनके साथ सेल्फी खींच आने के उत्सुक होते हैं और खुद प्रधानमंत्री भी ऐसा करना पसंद करते हैं, लेकिन भूमि पूजन के दौरान इस तरह का दृश्य कतई देखने को नहीं मिलेगा क्योंकि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को साफ कह दिया है कि सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का किसी भी तरह से उल्लंघन नहीं होगा और प्रधानमंत्री की किसी भी मेहमान के साथ सेल्फी खिंचाई नहीं जाएगी।

हेलीपैड, हनुमानगढ़ी, जन्म भूमि कंपलेक्स जैसे प्रमुख स्थलों पर वरिष्ठ अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। उनको भी कहा गया है कि वह ना खुद और ना किसी को मोबाइल से फोटो या सेल्फी लेने दें।

सभी कार्यकर्ताओं को ट्रिपल लेयर मार्क्स लगाने को कहा है और उन पर नजर रखने के लिए दो एनफोर्समेंट की टीम लगाई गई है ताकि वह अपने चेहरे से मार्क्स ना हटा पाए।

दरअसल अयोध्या प्रशासन पर काफी दबाव है जिस तरीके से पिछले दिनों गृह मंत्री अमित शाह, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदुरप्पा, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोना पॉजिटिव हुए हैं , जबकि 30 जुलाई को चार पुलिसकर्मी और एक अतिरिक्त पुजारी अयोध्या जिले में टेस्ट पॉजिटिव पाए गए हैं। उससे अयोध्या का प्रशासन तो क्या पूरी यूपी सरकार चौकन्नी है।