मोदी सरकार कोरोना के बीच डिजिटल रैली करेगी, 1000 से ज्यादा डिजिटल कॉन्फ्रेंस, हर रैली में कम से कम 750 लोग शामिल!

0
198

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) वैश्विक कोरोनावायरस महामारी के बावजूद मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की पहली वर्षगांठ पर पूरे देश में अभियान चलाएगी। बीजेपी प्रेस कॉन्फ्रेंस और वर्चुअल रैली के जरिए मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की पहली सालगिरह मनाएगी। बीजेपी नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की पहले वर्षगांठ पर पूरे देश मे वर्चुअल अभियान चलाएगी। कोरोना महामारी को देखते हुए इस अभियान को डिजिटल माध्यम से ही चालएगी, पार्टी केंद्र सरकार की उपलब्धियों के बारे में जन जन को बताने का अभियान चलाएगी। कोरोना महामारी के कारण मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की पहली वर्षगांठ धूमधाम से नहीं मनेगी।  

बड़े राज्यों में 2 और छोटे राज्यों में एक रैली होगी, हर रैली में कम से कम 750 लोग शामिल होंगे

राज्य इकाइयों और अन्य भाजपा कार्यकर्ताओं को भेजी चिट्ठी में पार्टी के जनरल सेक्रेटरी अरुण सिंह ने लिखा है कि सभी बड़े राज्यों की इकाइयां कम से कम 2 और छोटे राज्यों की इकाइयां कम से कम एक वर्चुअल रैली करेंगी। केंद्रीय मंत्रियों और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को मिलाकर 150 से ज्यादा नेता कॉन्फ्रेंस को संबोधित करेंगे। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्‌डा भी फेसबुक लाइव से भाषण देंगे। हर स्तर पर वर्चुअल तरीके से रैली का भी आयोजन किया जाएगा। इसके साथ ही राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर भाजपा की करीब 1000 वर्चुअल सम्मेलनों का आयोजन करने की योजना है। वाट्सएप, फेसबुक व ट्विटर के जरिए भी पार्टी उपलब्धियों को देश भर में लेकर जाएगी। इस कार्यक्रम में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जाएगा। हर रैली में कम से कम 750 लोग शामिल होना चाहिए। देशभर में 1000 से ज्यादा ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस भी की जाएंगी।

कोरोना से निपटने के लिए की गई कोशिशें भी गिनाएंगे

भारतीय जनता पार्टी इस दौरान प्रधानमंत्री द्वारा लिखा एक पत्र 10 करोड़ घरों में भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा पहुंचाया जाएगा, जिसमें सरकार आत्मनिर्भरता पर जोर दे रही है। कोरोना से बचाव और स्वस्थ रहने की जानकारी होगी। साथ ही इसमें विश्व कल्याण में भारत की भूमिका भी एक विषय होगा। ऐसे में पार्टी के सदस्यों से लोकल और स्वदेशी अपनाने का संकल्प लेने को कहा गया है। उनसे केंद्र की ओर से कोरोनावायरस से निपटने के लिए किए जा रहे प्रयासों को जनता तक पहुंचाने को भी कहा गया है।

एक महीने चल सकता है समारोह

सूत्रों के मुताबिक, समारोह 30 मई से शुरू होगा और एक महीने तक चल सकता है। पार्टी की ओर से जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि मोदी सरकार की दूसरी पारी का पहला साल कई ऐतिहासिक उपलब्धियों से भरा है। इसमें आर्टिकल 370 को हटाया जाना, तीन तलाक के खिलाफ कानून पास होना शामिल है। इसी दौरान राम मंदिर के निर्माण का रास्ता भी साफ हुआ है। सरकार की ये सभी उपलब्धियां इतिहास में स्वर्णाक्षरों से लिखी जाएंगी।

बता दे कि, मोदी सरकार की 2019 में सत्ता में दोबारा वापसी को 30 मई को सालभर हो जाएगा। 2014 से ही जब मोदी पहली बार प्रधानमंत्री बने थे, तब से ही बीजेपी और सरकार वर्षगांठ के मौके पर अपनी उपलब्धियों को लोगों को बताती रही है।

बता दें कि 23 मई 2019 में लोकसभा चुनाव के नतीजे आए थे। प्रचंड बहुमत के साथ भारतीय जनता पार्टी की जीत हुई थी। नरेंद्र मोदी दूसरी बार प्रधानमंत्री बने थे। 30 मई को मोदी सरकार 2.0 का 1 साल का कार्यकाल पूरा हो जाएगा। एक साल में मोदी सरकार ने कई कठिन निर्णय लिए। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र की एनडीए सरकार 30 मई को अपने दूसरे कार्यकाल का पहला साल पूरा कर रही है लेकिन कयास लगाया जा रहा है कि इस अवसर पर न ही कोई समरोह आयोजित किया जाएगा और न ही कार्यकर्ताओं का कोई सम्मेलन होगा। पार्टी सिर्फ डिजिटल माध्यम से ही सरकार की उपलब्धियों का प्रचार करेगी। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here