राम मंदिर के लिए प्रियंका का समर्थन तो कांग्रेस एक कदम आगे उन्हें मंदिर के बड़े समर्थक के रूप में कर दिया पेश

0
361

नई दिल्ली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार को राम मंदिर भूमि पूजन का समर्थन करते हुए एक बयान जारी किया, जिसके बाद उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने कदम आगे बढ़ते हुए उन्हें राम मंदिर के बड़े समर्थक के रूप में चित्रित कर दिया।

उत्तर प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष ममता चौधरी ने गांधी के बयान के साथ एक वीडियो ट्वीट किया जिसमें उनकी फोटो के बगल में उनका बयान था। फोटो में गांधी की एक पुरानी तस्वीर है जहां उनके माथे पर टीका और गले में एक गेंदे की माला है – पृष्ठभूमि में राम मंदिर का मॉडल है।

वीडियो में प्रियंका गांधी के बयान के एक भाग को चलाया गया है: “भगवान राम की कृपा से यह कर्यक्रम उनके संदेश को प्रायश्चित करने वाला राष्ट्रीय एकता, बंधुत्व और सांस्कृतिक समागम का कार्यक्रम बने ”।

इसके बाद एआईसीसी के राष्ट्रीय सचिव और यूपी कांग्रेस के सह-प्रभारी धीरज गुर्जर ने गांधी के बयान को ट्वीट किया, जिसमें कहा गया कि “राम मंदिर भव्य होगा और निर्माण जल्द ही पूरा होगा”।

प्रियंका की फोटो के साथ राम मंदिर दिखाई है और उनके बयान के उद्धरण को यूपी कांग्रेस द्वारा व्हाट्सएप ग्रुपों पर पोस्ट किए गए।

राम मंदिर भूमि पूजन के समर्थन में कांग्रेस के नेताओं की एक नई श्रृंखला भी सामने आई है – जिसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी, जिन्होंने प्रसिद्ध भजन रघुपति राघव राजा राम ’से एक वीडियो, गुनगुनाते हुए लाइनें निकालीं।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने भी कहा है कि राज्य कांग्रेस राम मंदिर निर्माण के लिए 11 चांदी की ईंटें भेजेगी।

दिग्विजय सिंह, सलमान खुर्शीद और अनिल शास्त्री जैसे कई वरिष्ठ कांग्रेसी नेता समारोह के लिए निमंत्रण नहीं दिए जाने से नाराज हैं।

दिग्विजय सिंह ने कहा था, “जिस तरह से निमंत्रण भेजे गए हैं, यह पूरी तरह से बीजेपी के लिए क्रेडिट चोरी करने के लिए किया गया है।”

उन्होंने समारोह के समय पर भी सवाल उठाया। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इसे बंद करने का आग्रह करते हुए कहा कि यह समय अशुभ है।