लॉकडाउन का असर : बिजली की मांग में कमी और पावर सेक्टर को बड़ा झटका!

0
252

लॉकडाउन के कारण अर्थव्यवस्था में काफी कमी अाई है। इतना ही नहीं लॉकडाउन के चलते बिजली की मांग में भी भारी कमी आई है और पावर सेक्टर को भाड़ी झटका लगा है। इससे प्रतिदिन बिजली खपत में भारी गिरावट आई है। ऑल इंडिया पावर इंजीनियर्स फेडरेशन ने चिंता जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। फेडरेशन का कहना है कि लॉकडाउन के पहले देश में बिजली की मांग 1,54,045 मेगावाट थी, जो घटकर 1,21,937 मेगावाट रह गई है। देशभर में प्रतिदिन बिजली खपत 35,650 लाख यूनिट से घटकर 29,750 लाख यूनिट पर आ गई है। खपत घटने से अकेले उत्तर प्रदेश में 30 करोड़ रुपए प्रतिदिन से अधिक का नुकसान हो रहा है, जो 21 दिन में 650 करोड़ रुपए से अधिक हो जाएगा।

1 लाख ब्रांच खुलीं, 10 लाख भी नहीं पहुंचे
जानकारी के मुताबिक, लॉकडाउन में सभी बैंकों की 80% ब्रांच खोली गईं। लेकिन हर बैंक में औसत 15-20 लोग ही पहुंचे। इसके बाद बैंकों ने आरबीआई को लिखा है कि शाखाओं में गतिविधियां कम हो गई हैं। न आरटीजीएस हो रहे हैं, न चेक क्लियरिंग हो रही हैं। ईएमआई के लिए जनरेट होने वाले ईसीएस और क्लियरिंग भी मुंबई से ही हो जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here