यह समय राजनीति और झगड़ने का नहीं, आपस में लड़ेंगे तो कोरोना जीत जाएगा: अरविंद केजरीवाल!

0
122

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पूर्वी लद्दाख के मामले पर प्रेस वार्ता करते हुए कहा है कि देश चीन के खिलाफ दो लड़ाई लड़ रहा है, एक तरफ कोरोना वायरस का कहर और दूसरी सीमा पर तनाव। केजरीवाल ने कहा कि भारत चीन बॉर्डर पर और चीन से आए वायरस के खिलाफ, हमारे 20 वीर जवान पीछे नहीं हटे, हम भी पीछे नहीं हटेंगे और दोनों युद्ध जीतेंगे। केजरीवाल ने कहा कि पूरा देश हमारे डॉक्टरों और सैनिकों के साथ खड़ा है जो दो मोर्चों पर लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह राजनीति का समय नहीं है, हम सभी को एकजुट होकर ये युद्ध लड़ने होंगे।

केजरीवाल ने एक वीडियो संदेश जारी करते हुए कहा कि हम यह दोनों लड़ाई जीतेंगे। हालांकि, दिल्ली में कोरोना से पार पाने के लिए केजरीवाल और केंद्र सरकार एक साथ काम कर रही है। केंद्र ने इस मसले को लेकर अभी तक कई बैठके कर चुके है।

केजरीवाल ने अपने वीडियो में कहा कि दिल्ली में होम क्वारंटाइन में रहने वाले कोरोना के मरीजों को सरकार पल्स ऑक्सीमीटर देगी। केजरीवाल ने कहा, ‘जिन मरीजों को हल्के कोरोना के लक्षण हैं और वे होम क्वारंटाइन में हैं, ऐसे मरीजों को हम पल्स ऑक्सीमीटर देंगे। इसके चलते वे अपनी ऑक्सीजन संबंधित दिक्कतों की जांच कर सकेंगे।

केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में हमने राजधानी में टेस्टिंग को तीन गुना तक  बढ़ा दिया है। पहले पांच हजार टेस्टिंग रोजाना की जा रही थीं, अब इसे बढ़ाकर 18 हजार कर दिया गया है। कुछ लैब्स भी थीं, जो पहले गलत रिपोर्ट दे रही थीं। ऐसी लैब्स पर कार्रवाई की गई है।

केजरीवाल ने कहा, ‘दिल्ली और केंद्र सरकार मिलकर कोरोना से काबू पा रही है। यह समय राजनीति करने का और लड़ाई-झगड़े करने का नहीं है। अगर हम आपस में लड़ेंगे तो करोना जीत जाएगा। और मिलकर लड़ेंगे तो कोरोना हार जाएगा। बता दे कि, दिल्ली में जानलेवा कोरोनावायरस के मामलों रविवार तक 60,000 का आंकड़ा पार कर गया है। दिल्ली लगभग 25000 कोरोना एक्टिव केस हैं और वहीं, अब तक 33000 से अधिक मरीज ठीक भी हो चुके हैं।

Leave a Reply